Tuesday, March 22, 2011

वर्तमान ‘समय के साखी’

पत्रिका: समय के साखी, अंक: जनवरी 2011, स्वरूप: मासिक, संपादक: डाॅ. आरती, पृष्ठ: 119, रेखा चित्र/छायांकन: जानकारी उपलब्ध नहीं, मूल्य: 20रू(वार्षिक 240रू.), ई मेल: samaysakhi@gmail.com , वेबसाईट: http://www.samaykesakhi.in/ , फोन/मो. 09713035330, सम्पर्क: बी-308, सोनिया गांधी काॅम्पलेक्स, हजेला हाॅस्पिटल के पास, भोपाल 462003 म.प्र.
समय के साखी का यह अंक ख्यात वरिष्ठ कवि केदारनाथ अग्रवाल के व्यक्तित्व पर एकाग्र है। अंक में उनके कृतित्व पर विश्लेषणात्मक ढंग से विचार किया गया है। केदारनाथ जी की कविताएं, आलेख, अनुवाद तथा अपने समकालीन रचनाकारों को लिखे गए पत्र सहेजकर रखने योग्य हैं। शमशेर बहादुर सिंह, प्रभाकर माचवे तथा त्रिलोचन ने उनके सृजन व रचना प्रक्रिया पर जो कुछ कहा है उसे पत्रिका ने प्रमुखता से प्रकाशित किया है। वर्तमान कवियों नचिकेता, राजेश जोशी तथा केशव तिवारी द्वारा केदारनाथ जी पर व्यक्त किए गए विचारों में नयापन है। वर्तमान आलोचक केदारनाथ जी को प्रगतिशीलता के साथ साथ श्रमिकों के लिए जूझता कवि मानते हैं। आलोचक शिवकुमार मिश्र, जीवन सिंह, डाॅ. सेवाराम त्रिपाठी तथा अवधेश नारायण मिश्र ने कविताओं के विश्लेषण के आधार पर उनकी विचारधारा स्पष्ट की है। डाॅ. पदमा शर्मा, ज्योति किरण तथा नरेन्द्र पुण्डरीक उन्हें लोक संवेदना तथा जीवन बोध का कवि मानते हैं। पत्रिका की रचनाएं स्तरीय है व पाठक को बांधे रखने में सफल रही हैं।

1 comment: