Wednesday, March 31, 2010

साहित्य की ‘ज़मीन’

पत्रिका: ज़मीन, अंक: 25, स्वरूप: त्रैमासिक, संपादक: अमिताभ मिश्र व चन्द्रशेखर साक्कले, पृष्ठ: 54, मूल्य 25 रू.(वार्षिकः 100रू.), ई मेल: उपलब्ध नहीं, वेबसाईट: उपलब्ध नहीं, फोन/मो. (00)000000, सम्पर्क: ई-1, सरस्वती नगर, सिचाई कालोनी, भोपाल 462003 म.प्र.
दिखने में साधारण लेकिन असाधारण व उपयोगी साहित्य युक्त पत्रिका ज़मीन के 25 वर्ष बाद पुनः प्रारंभ होने पर स्वागत किया जाना चाहिए। पत्रिका के इस अंक मंे कौशल मिश्र, संदी श्रोत्रिय, धमेन्द्र पारे व डाॅ. पूर्णचंद्र रथ की कविताएं एवं पवन कुमार मिश्र के दो नवगीत प्रकाशित किए गए हैं। प्रमोद त्रिवेदी का आलेख ‘वे दिनः जमीन से जुड़ी यादें’ पत्रिका के पुराने दिनों की यादें ताज़ा करता है। चिन्मय मिश्र का आलेख ‘साहित्य से भी विस्थापित समुदाय एक विचारणीय गंभीर रचना है।

2 comments:

  1. jameen patrika ke baare me jaanakari dene ke liye dhanyabaad.

    ReplyDelete
  2. बहुत सुंदर जी.
    धन्यवाद

    ReplyDelete