Sunday, July 3, 2011

‘अंतराल दस साल’ और शुभ तारिका

पत्रिका: शुभ तारिका, अंक: जून 2011, स्वरूप: मासिक, संपादक: उर्मि कृष्ण, पृष्ठ: 52, मूल्य: 12रू (वार्षिक: 120 रू.), ई मेल: , ,वेबसाईट: उपलब्ध नहीिं, फोन/मोबाईल: 0171.2610483, सम्पर्क: कृष्णदीप, ए-47, शास्त्री कालोनी, अम्बाला छावनी, 133001 हरियाणा

प्रतिष्ठित पत्रिका शुभ तारिका का यह अंक ख्यात साहित्यकार व पत्रिका के संस्थापक डॉ. महाराज कृष्ण जैन पर एकाग्र है। उनके समग्र व्यक्तित्व व कृतित्व पर पत्रिका में उपयोगी आलेखों का प्रकाशन किया गया है। अंक में स्मृति दर्पण के अंतर्गत कमलेश ठाकुर, सुशीला जैन, संत कुमार जैन, मुक्ता, रत्नचंद जैन, अनूप सिंह, राघवेन्द्र दुबे, दीनदयाल वर्मा, सुभाष बंसल, लक्ष्मी रूपम, अनिल, सुमति जैन, अन्नपूर्णा श्रीवास्तव, अरविंद सिंह, शैल वर्मा, संतोष शर्मा, जनक अरोड़ा, मदन मोहन श्रीवास्तव, रमेश प्रसून, रूखसाना सिद्दकी, सतयनारायण सत्तन, दिलीप भाटिया, पंकज शर्मा, किशनलाल शर्मा, गोविंद चावला, प्रमीला गुप्ता लेखराम वर्मा, विजय कुमार, दिनेश कुमार छाजेड़ एवं रामदुलारी श्रीवास्तव के आलेख प्रमुख हैं। पत्रिका की अन्य रचनाएं व स्तंभ आदि भी प्रभावित करते हैं। संपादक उर्मि कृष्ण ने अपने संपादकीय में उन्हें ‘अंतराल दस साल’ के रूप में याद किया है।

No comments:

Post a Comment