Monday, May 31, 2010

नाट्य विधा के लिए ‘रंग अभियान’

पत्रिका: रंग अभियान, अंक: 19 आमंत्रण अंक, स्वरूप: अनियतकालीन, संपादक: डाॅ. अनिल पतंग, पृष्ठ: 56, मूल्य:15रू. (8 अंकों का मूल्य 100रू.), ई मेल: rang.abhiyan@yahoo.com , वेबसाईट/ब्लाॅग: उपलब्ध नहीं, फोन/मो. 09430416408, सम्पर्क: नाट्य विद्यालय, बाघा, पो. सुहदनगर, जिला -बेंगूसराय851218(बिहार)
नाट्य विधा पर प्रकाशित होने वाली यह पत्रिका उन गिनी चुनी पत्रिकाओं में से है जो इस विधा को पाठकों तक पहुंचा रही है। समीक्षित अंक में प्रकाशित रचनाओं में धरोहर के अंतर्गत आलेख पुरूष जो महिला बनते हैं(डाॅ. महेन्द्र भानावत) एवं नाटक निदेशक की भूमिका(सत्येन्द्र सरत्) पाठकों के लिए जानकारीप्रद रचनाएं हैं। नाट्य अभिनय सम्राट प्यारेमोहन सहाय पर प्रकाशित किया गया आलेख व साक्षात्कार अभिनेता के अभिनय सहित विविधता पूर्ण जीवन पर प्रकाश डालता है। ओम प्रकाश मंजुल ने बच्चों के रंगअभियान के अंतर्गत बच्चें के लिए उपयोगी रचना की प्रस्तुति की है। प्रमुख नाट्यालेखों में कुशेश्वर, नयन कुमार राही, राजेन्द्र सिंह गहलोत के लेख विशेष रूप से प्रभावित करते हैं। पत्रिका की अन्य रचनाएं समीक्षाएं तथा स्थायी स्तंभ भी इसे जन-उपयोगी बनाते हैं। देश में नाट्य विधा पर किए जा रहे इस महत्वपूर्ण कार्य पर और अधिक ध्यान दिए जाने की आवश्यकता है।
click here

2 comments: