Friday, March 5, 2010

हिंदी साहित्य की कथा का बिंब--‘कथा बिंब’

पत्रिका: कथाबिंब, अंक: अक्टूबर-दिसम्बर.09, स्वरूप: त्रैमासिक, प्रधान संपादक: डाॅ. माधव सक्सेना ‘अरविंद’, संपादक: मंजुश्री, पृष्ठ: 56, मूल्य:15रू.(वार्षिकः 50), ई मेल: kathabimb@yahoo.com , वेबसाईट: http://www.kathabimb.com/ , फोन/मो.(022)25515541, सम्पर्क: ए.10, बसेरा आॅफ दिनक्वारी रोड़, देवनार मुम्बई 400.088 कथा प्रधान पत्रिका का समीक्षित अंक सार्थक व पाठकोपयोगी रचनाओं से परिपूर्ण है। अंक में लौटना (सुशांत सुप्रिय), कभी कभी मेरे दिल मे...(संजीव निगम), भेड़िए(नज़्म सुभाष), मुक्ति(महेश कटारे) एवं अपराधबोध(नरेन्द्र कौर छाबड़ा) की अच्छी पठनीय कहानियों का प्रकाशन किया गया है। लघुकथाओं में आनंद बिलथरे, अनंत भटनागर, राधेश्याम पाठक, राजेन्द्र वर्मा उल्लेखनीय हैं। रमेश चंद्र शर्मा, सुशांत सुप्रिय, गाफिल स्वामी, पद्यमा सेन, श्यामनारायण श्रीवास्तव, रजनी मोरवाल, मधु प्रसाद व राही शंकर के गीत गजल व कविताएं प्रभावित करती हैं। पत्रिका के अन्य स्थायी स्तंभ, समीक्षाएं व रचनाएं भी आकर्षक हैं।

No comments:

Post a Comment