Friday, November 13, 2009

साहित्यिक समाचार प्रधान पत्रिका- नया भाषा भारती संवाद

पत्रिका-नया भाषा भारती संवाद, अंक-जुलाई-सितम्बर.09, स्वरूप-त्रैमासिक, संपादक-नृपेन्द्र नाथ गुप्त, पृष्ठ-152, मूल्य-50रू.(वार्षिक 100रू.), सम्पर्क-भारतीय भाषा साहित्य संगम, श्री उदित आयतन, ब्रहा स्थान पथ, शेखपुरा, पटना 800014 फोनः 0612.2296587
बिहार से प्रकाशित यह एक समाचार प्रधान पत्रिका है। इस पत्रिका में प्रमुख रूप से साहित्यिक समाचारों का प्रकाशन किया जाता है। देश में आज इस तरह की एक अच्छी पत्रिका की आवश्यकता है जो साहित्य जगत की गतिविधियों समाचारों का प्रकाशन कर सके। पत्रिका के इस अंक में संपादक ने अपने अग्रलेख में इस बात का प्रमुख रूप से उल्लेख किया है कि अंग्रेजी को हटाए बिना राजभाषा गुलाम है। डाॅ. छाया सिन्हा ने ‘रामराज्य और तुलसी’ पर एक तुलनात्मक आलेख पाठकों को विचार करने के लिए रखा है। डाॅ. उषा सिंह ने कथाकार नलिनी विलोचन शर्मा के समग्र पर प्रकाश डाला है। मूल्यहीनता पर डाॅ. वरूण कुमार तिवारी का आलेख विश्लेषण प्रस्तुत करता है। युगल किशोर प्रसाद, विधुशेखर पाण्डेय, डाॅ. गणेशदत्त सारस्वत, इंदिरा शबनम तथा डाॅ. परमलाल गुप्त की कविताएं पत्रिका का दूसरा पक्ष है। पत्रिका के दूसरे खण्ड में देश भर के साहित्यिक समाचारों को स्थान दिया गया है। यह पत्रिका भविष्य में अपने केनवास को और भी विस्तृत करेगी ऐसी आशा की जाती है।

1 comment:

  1. जी इस पत्रिका से परिचय है मेरा!

    शुक्रिया अखिलेश जी

    ReplyDelete