Wednesday, April 1, 2009

रचनाकार----बेव पर उपलब्ध साहित्य का खजाना

पत्रिका-रचनाकार, अंक-मार्च.09, स्वरूप-बेव पत्रिका, संपादक-रविशंकर श्रीवास्तव,
मूल्य-निःशुल्क उपलब्ध,
special :- send your hindi related article in the form of कृतिदेव, डेवलिस, श्रीलिपि, शुषा, वेबदुनिया, जिस्ट-आईएसएम, लीप या किसी भी अन्य फ़ॉन्ट में पेजमेकर या एमएस वर्ड
रचनाकार बेव पर उपलब्ध म.प्र. की एकमात्र तथा महत्वपूर्ण पत्रिका है। लगभग एक वर्ष से भी कम समय में इसने इंटरनेट पर हिंदी साहित्य को विश्वव्यापी रूप देने का महत्वपूर्ण कार्य किया है। पत्रिका मूलतः एक ब्लाग के रूप में है जिसे लगभग प्रतिदिन अपडेट किया जाता है। इसमें हिंदी साहित्य की कविता, कहानी, संस्मरण, साक्षात्कार, जीवनी, रिपोतार्ज आदि कई विधाओं की रचनाओं को संकलित किया गया है। रचनाकार की सबसे बड़ी विशेषता यह है कि यह किसी रचना की गुणवत्ता को ही प्रकाशन का प्रमुख आधार मानती है। इसे साहित्यकार के नाम अथवा ख्याति से कोई सरोकार नहीं है। पत्रिका ने अपने ब्लाॅग पर कई उपयोगी लिंक भी उपलब्ध कराए हैं जो इस ब्लाॅग पर आने वाले प्रत्येक विजिटर्स के लिए उपयोगी हैं। हिंदी के प्रचार प्रसार तथा साहित्य को सर्व सुलभ बनाने के लिए रचनाकार बधाई का पात्र है।

1 comment:

  1. रचनाकार की समीक्षा के लिए आपको हार्दिक धन्यवाद.

    ReplyDelete