Wednesday, February 11, 2009

शब्द....साहित्य के लिए

पत्रिका-शब्द, अंक-अक्टूबर.08, स्वरूप-मासिक, संपादक-आर.सी. यादव, मूल्य-100रू.वार्षिकसंपर्क-सी-1104, इंदिरा नगर, लखनऊ, उ.प्र.(भारत)
लघुपत्रिका ॔शब्द’ दस वर्ष से निरंतर प्रकाशित हो रही है। पत्रिका के समीक्षित अंक में छः आलेख प्रकाशित किए गए हैं। इनमें ॔गॉधी जी की आखिरी वसीयत’(कन्हैयालाल मित्र ॔प्रभाकर’), तनाव(मुनमुन प्रसाद श्रीवास्तव), भगवती चरण वर्मा(राकेश शुक्ल) प्रमुख है। पत्रिका में दो अन्य रचनाएं ॔पिटाई के असीमित आनंद’.(अखिलेश शुक्ल-व्यंग्य तथा ॔ईश्वर की शरारत’(आर.सी.यादव) अपने तरह की विशिष्टि रचनाएं हैं। कविताओं में संत कुमार टण्डन, पुष्पा रघु, आकांक्षा यादव, पूनम कौसर की कविताएं नई कविता की राह पर दिखाई देती है। 32 पृष्ठ की यह पत्रिका ऋुटि विहीन मुद्रण तथा कुशल संपादन से युक्त है।

3 comments:

  1. shabd ke baare main achhi jankari di. jaroor padoonga.

    ReplyDelete
  2. sir..aapki pratikiriya ke liye bahut bahut dhanywaad...haan main patrikao mein publish karane mein ruchi rakhti hu..kripya mera maarg darshan kare..dhanywaad!!

    ReplyDelete